Daat Kali Mandir | Dehradun

देवों की भूमि यानी Uttarakhand में ऐसे कई सारे मंदिर है जिनकी खूबसूरती की बात हे अलग हैं। Uttarakhand में आपको ऐसे अनेक देवस्थान मिलेंगे जिनका पौराणिक और धार्मिक महत्व सबसे जाता है। उन्ही में से एक है Daat Kali (डाट काली) माँ का मंदिर।

यह मंदिर Dehradun के प्रसिद्ध मंदिरों में से एक है। यह मंदिर Dehradun शहर से लगभग 14 किलोमीटर की दुरी पर स्थित है। इस मंदिर को Uttarakhand की इष्ट देवी के नाम से भी जाना जाता है। जोकि Saharanpur -Dehradun highway पर स्थित है। यह मंदिर मां काली को समर्पित है। इस मंदिर को भगवान शिव की पत्नी माता सती का अंश माना जाता है।

माँ सती का एक रूप मां काली को माना गया है। यूं तो देशभर में मां काली के अनेक मंदिर हैं लेकिन उत्तर प्रदेश Uttarakhand की सीमा पर स्थित मां डाट काली के मंदिर की अलग मान्यता है। मां डाट काली मंदिर को मनोकामना शक्ति सिद्धिपीठ व काली मंदिर के नाम से भी जाना जाता है।

ऐसा माना जाता है कि Daat Kali का यह मंदिर शक्तिपीठों में से एक है। आपको यह जानकर हैरानी होगी कि इस मंदिर का निर्माण 200 साल पहले अंग्रेजी हुकूमत के लिए काम करने वाले एक इंजीनियर ने ही करवाया था। मां Daat Kali मंदिर का निर्माण 13 जून, वर्ष 1804 में हुआ था।

Maa Daat Kali

इसका निर्माण तब किया गया था, जब Dehradun – Saharanpur, hinghway का निर्माण किया जा रहा था। अंग्रेजों को दून घाटी में प्रवेश करने के लिए इस मंदिर के पास एक Tunnel का निर्माण करना पड़ा था। लेकिन तमाम कोशिशों के बाद भी जब सुरंग का काम पूरा नहीं हुआ तो अंग्रेजों को भी Daat Kali के दरबार में शीश झुकाना पढ़ा था। मंदिर बनने के बाद से Tunnel बनने का काम आसान हो गया तब जाकर ही यह ऐतिहासिक Tunnel का निर्माण हुआ था।

Daat Kali नाम कैसे पढ़ा

इस मंदिर का नाम Daat Kali यहां की स्थानीय मान्यताओं के कारण पड़ा था। इस क्षेत्र में मां Daat Kali मंदिर के प्रति आस्था है। गढ़वाली भाषा में Daat को सुरंग कहा जाता है। शायद यही कारण है कि इस मंदिर का नाम Daat Kali मंदिर पड़ा। कुछ साल पहले तक मंदिर में श्रद्धालुओं की भीड़ इतनी ज्यादा बढ़ जाती थी कि इसके चलते सहारनपुर-देहरादून हाईवे को बंद करना पड़ता था।

इसी को देखते हुए सरकार ने एक नए Tunnel का निर्माण किया। यह Tunnel, Uttarakhand की पहली Double – Lane Tunnel है। इस जगह को और सुंदर बनाने के लिए सरकार अनेक कार्य कर रहे हैं।

Daat Kali Mandir के पास ही उनकी बड़ी बहन भद्रकाली का मंदिर भी है।

माँ भद्र काली

गोरखा सेनापति बलभद्र थापा ने भी यहीं पर भद्रकाली मंदिर की स्थापना की थी। भद्रकाली मंदिर Daat Kali Mandir के निकट स्थित है। मां भद्रकाली के दर्शन के बाद ही यात्रा पूर्ण मानी जाती है। सुरंग के दोनों ओर दोनों बहनों का मंदिर स्थापित है।

Story Behind Daat Kalika Mandir 

First Story

Maa Daat Kali

ऐसा माना जाता है कि मां काली एक इंजीनियर के सपने में आई थी, इस सपने में माँ काली ने इंजीनियर को अपनी एक मूर्ति सौंपी और उसे इस स्थान पर एक मंदिर बनाने का आदेश दिया। इंजीनियर ने मूर्ति को महंत सुखबीर गुसाईं को सौंप दिया। जो आज भी घाटी के मंदिर में स्थित है।

Daat Kali Mandir की मुख्य विशेषता यह है, कि इस मंदिर के अंदर एक दिव्य ज्योति सदैव जलती रहती है। यह ज्योति वर्ष 1921 से लगातार अभी तक जल्दी आ रही है। यहाँ के स्थानीय लोग जब भी कोई नया वाहन खरीदते हैं तो इस मंदिर में पूजा के लिए मां Daat Kali Mandir के मंदिर आते हैं। इसलिए जो भी व्यक्ति यहां जाता है वह मां काली का आशीर्वाद जरूर लेकर जाता है, और इस मंदिर में तेल, गुड, आटा, घी, और अन्य वस्तुओं का चढ़ावा भी चढ़ाता है। मंदिर प्रांगण में ही एक बड़ा सा हॉल है जिसमें भक्त विश्राम कर सकते हैं। यहां भक्तों के लिए सदैव भंडारे का आयोजन किया जाता है, और नवरात्रों के त्यौहार मैं अक्सर यहां काफी संख्या में आते हैं और मां काली की पूजा करते हैं।

Second Story

दूसरी मान्यता के अनुसार इस राजमार्ग में बहुत पहले कई बार सड़क दुर्घटना हो चुके थे और लगातार लाइटों और साइन बोर्ड का प्रयोग करने के बाद भी यहां पर दुर्घटनाएं कम होने का नाम नहीं ले रही थी। ऐसे में सभी स्थानीय निवासियों में यह निर्णय लिया कि यहां पर मां काली को विराजमान करना चाहिए, और उसके बाद ही इस मंदिर का निर्माण कराया गया था।

कहा जाता है कि तब से लेकर अभी तक यहां कोई भी सड़क दुर्घटना नहीं घटित हुई है, और आज भी जो लोग नया वाहन खरीदते हैं तो मां काली का आशीर्वाद जरूर लेते हैं। इस मंदिर के पास ही Rajaji National Park स्थित है, जो इस क्षेत्र की खूबसूरती को और भी बढ़ा देता है Rajaji National Park क्षेत्र में आपको हाथियों के झुंड देखने को मिल जाएंगे।

Nearby Places Daat kalika Mandir

मंदिर के आसपास आपको बहुत सारी गुमने की जगह मिल जाएंगे जहां आप जाकर अपनी छुट्टियों का आनंद ले सकते हैं।

  1. Rajaji National Park, Dehradun
  2. FRI (Forest Research Institute), Dehradun
  3. Tapkeshwar Mahadev Mandir, Dehradun
  4. Sahastradhara, Dehradun
  5. IMA etc.

अगर आप Dehradun में मौजूद घूमने की जगह ढूंढ रहे है तो यहाँ पर Click Kare ➡️ Click Kare

Conclusion

उत्तराखंड को उसके धार्मिक महत्व के कारण ही देवभूमि अर्थात देवों की भूमि कहा जाता है। उत्तराखंड में ऐसे कई सारे धार्मिक स्थल मंदिर मौजूद है जहां आप को जरूर जाना चाहिए। उन्हीं धार्मिक स्थलों में से एक है Daat Kali माँ का यह मंदिर जो कि देहरादून में स्थित है।

Daat kali Mandir तक कैसे पहुंचें?

Daat Kali Mandir, Dehradun से लगभग 14 किमी दूर सहारनपुर रोड पर है।
यह मंदिर ISBT, Dehradun (Bus Stand) से लगभग 7.7 किलोमीटर दूर स्थित हैं, Railway Station से इसकी दुरी लगभग 13 किमी की है। Jolly Grant, Airport से 41 किमी दूर पर स्थित है।

Where is Daat Kali Mandir located in Dehradun?

Daat Kalika का यह मंदिर Uttarakhand के Dehradun में स्थित है। यह Dehradun शहर के Kewal Vihar छेत्र के Chander Lok Colony में स्थित है।

What is the significance of Daat Kali Mandir?

Daat Kali Mandir माँ काली को समर्पित है। Daat Kali Mandir शक्तिपीठों में से एक है। मां Daat Kali मंदिर का निर्माण 13 जून, वर्ष 1804 में हुआ था।

Can non-Hindus visit the temple ?

Yes, Daat Kalika के मंदिर कोई भी जा सकता है।

Leave a Comment